आईपीएल : आखरी लीग मैच जितने के बाद सी एस के कप्तान माही ने क्या कहा ?

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन से आज आधिकारिक तौर पर चेन्नई सुपर किंग्स का सफर खत्म हो गया। किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेले गए अपने आखिरी लीग मैच में सीएसके ने 9 विकेट से शानदार जीत दर्ज की। यह पहला मौका है, जब सीएसके प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाया है। सीएसके प्लेऑफ की दौड़ से पहले ही आउट हो चुका था, लेकिन टीम ने अपने आखिरी तीन मैच जीतकर फैन्स को जश्न मनाने का मौका दिया और साथ ही मजबूत वापसी का वादा भी किया। अपने आखिरी लीग मैच के बाद सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कई मुद्दों पर खुलकर बात की।

धोनी ने कहा, यह हमारे लिए मुश्किल सफर रहा। मुझे नहीं लगता कि हम अपनी पूरी क्षमता से खेले, हमने टूर्नामेंट में अलग-अलग मौकों पर कई गलतियां की। आखिरी के चार मैच दिखाते हैं कि हम खुद को इस टूर्नामेंट में कहां देखना चाहते थे। अगर आप बहुत ज्यादा पिछड़ जाते हैं, तो मुश्किल हो जाता है कि आप खुद को पुश कर सकें और अच्छा प्रदर्शन कर सकें। यहीं हर किसी को योगदान देना चाहिए था। मुझे गर्व है, जिस तरह से युवा क्रिकेटर्स खेले। 6त7 मैच काफी मुश्किल थे, आप ऐसे ड्रेसिंग रूम का हिस्सा नहीं होना चाहते हैं, जहां क्रिकेट का मजा नहीं लिया जा रहा हो।

उन्होंने आगे कहा, आप नए फॉर्मूला और थ्योरी के साथ आना चाहते हैं, लेकिन अगर ड्रेसिंग रूम का माहौल अच्छा नहीं रहता है, तो यह काफी मुश्किल हो जाता है। काफी कुछ इस पर निर्भर करेगा कि बीसीसीआई ऑक्शन को लेकर क्या फैसला लेता है। हमें अपने कोर ग्रुप में कुछ बदलाव करने होंगे और अगले 10 साल के बारे में सोचना होगा। आईपीएल की शुरुआत में हमने ऐसी टीम बनाई, जिसने हमारे लिए अच्छा काम किया। एक समय आता है, जब आपको थोड़ा शिफ्ट होना पड़ता है और अगली जनरेशन को जिम्मेदारी सौंपनी होती है। यही हमारी पॉलिसी रहेगी कि हम मजबूत कोर ग्रुप तैयार करें।

फैन्स को मैसेज देते हुए धोनी ने कहा, हम मजबूती से वापसी करेंगे, जिसके लिए हम जाने जाते हैं। यह मुश्किल साल रहा, यह ऐसा सीजन रहा, जहां ज्यादाकर टीमों ने अच्छा प्रदर्शन किया या आप कह सकते हैं कि मुंबई इंडियंस ने शानदार खेल दिखाया और बाकी टीमें इस दौड़ में बने रहने के लिए जूझ रही हैं। तो यह ऐसा कि आप इसको किस तरह से देखते हैं। इस सीजन में काफी कुछ पॉजिटिव रहा। बहुत खिलाड़ियों को मैंने अपनी जर्सी दी, शायद उन्हें लगा कि मैं रिटायर हो रहा हूं।

ऋतुराज गायकवाड़ के लिए धोनी ने कहा, हमने जब भी उसको देखा, वह ऐसा शख्स रहा, जिसने अच्छी बल्लेबाजी की। हम शुरुआत में उसको ज्यादा खेलते हुए नहीं देख सके थे। सीजन की शुरुआत में वह समय काफी मुश्किल था, जब वह कोविड पॉजिटिव पाया गया था और बाहर हो गया था। 20 दिन के बाद भी वह फिट नहीं था। उसको ज्यादा प्रैक्टिस का मौका नहीं मिला। अगर उसने अपने पहले मैच में 15-20 रन भी बना लिए होते, तो हम उसको मौका देते, यही वजह थी कि हम शेन वॉटसन और फैफ डु प्लेसी के साथ उतरते रहे। यह काम नहीं किया लेकिन मुझे नहीं लगता कि यह बुरा था। यह वो समय होता है, जब आप कहते हैं कि मैं अनुभवी खिलाड़ियों के साथ जाऊंगा और टूर्नामेंट में वापसी की कोशिश करते हैं। आईपीएल 2021 में अब कुछ ही महीने का समय बचा है, जो अच्छी चीज है और उम्मीद करता हूं कि लॉकडाउन नहीं होगा और खिलाड़ी स्किल्स पर काम कर सकेंगे। काफी कुछ प्लान किया जा सकता है, बस लॉकडाउन ना हो।


2020-11-01 10:26 pm

खेल जगत

SUCCEED INSTITUTE